भारत की किफ़ायती सैर करना

[English]

बचपन में देखे थे, मुंबई परदेसी सैर करनेवाले. सब पहनते थे सफेद कमीज़ और ढीली पतलून, और पीठ पर बड़ी बॅग. इतनी बड़ी बॅग, कि देख कर मुझे लगता था कि शायद रात को उसी पर सोते होंगे. यह सब यात्री किसी तरह एकसे लगते थे, और अब मुझे लगता है कि उनका भारत में आना भी एक ही वजह के लिए था – मोक्ष पाना. (मैं भारत में १८ साल रही हूँ और अब तक तो मैने मोक्ष नही पाया. पर क्या करें, हम हैं कि आशा ही नही छोड़तें.)

लेकिन एक बात है जो इन यात्रीयों ने एकदम सही पहचान ली – इससे और किफ़ायती सैर हो ही नही सकती. फिर भी, हम सब तो इन लोगों की तरह यात्रा नही कर सकते.
भारत देश बड़ा है. ठीक से, आराम से सब देखने के लिए वक्त लगता है. अब तक मैं खुद यह भी कह नही सकती कि मैने आधे से ज्यादा भारत देखा है. पूरे भारत के बारे में दो पन्नों में लिखना मतलब कालिदास के काव्य का वर्णन दो परिच्छेदों में करने जैसा ही होगा.

सैर किफ़ायती बनाने के जोश में जरूरती खर्चा कम करने की लालच में मत पडना. खास कर खाने की जगह में कंजूसी करना बहुत बड़ी गलती बन सकती है. एक किफ़ायती आमलेट के वजह से डॉक्टर का बिल भरना पड़े, यह तो आपके लिए मज़ेदार भी नही होगा, ना ही किफ़ायती.

अगर आप पैसे बचाना चाहते हैं, आप पॅकेज सैर भी देख सकते हैं. पॅकेज सैर का सबसे बड़ा फायदा है कि आपको अपने पास बहुत ज्यादा पैसे रखने की जरूरत नही है. सारा खर्चा पहले ही किया जाता है, फिर आपको कहां खाना हैं, कहां रहना हैं, कितना महंगा होगा, ये सब सोचने की जरूरत नही है.


अगर आपको इतिहास पसंद है

इतिहास पढ़नेवालों के लिए भारत की सैर करना बहुत ही दिलचस्प होगा. सब अलग अलग दुर्ग या क़िले देखिए. राजस्थान के आमेर से केरला के पलक्कड़ क़िले तक, महाराष्ट्र के दौलताबाद से दिल्ली के लाल क़िले तक, भारत में दुर्गों की कमी नही. राजस्थान में आप अनेक जगहों की सहर कर सकते हैं, वहाँ बहुत सारे छोटे पर सुंदर शहर हैं.

ऐतिहासिक महत्त्व के जगह छोटे शहरों में भी बहुत हैं. यह यात्रीयों के लिए अच्छा है, क्योंकि छोटे शहरों में रहना काफि ज्यादा किफ़ायती है.

अगर आपको इतिहास में दिलचस्पी है, औरंगाबाद के अजंता और एलोरा गुहे देखना ना भूलिए. इन में से कई गुहे एक ही परीवार के अनेक पीढ़ियों ने अपनी कला से सुंदर बनाए हैं.

मुंबई, मेरी जान!

मुंबई अपने आप से भी सैर करने के लिए अच्छी जगह है. (अगर आपने स्लमडॉग करोड़पती देखा और आपको पसंद आया, आपको एसे भी मुंबई दर्शन मिल सकते हैं जहा आपको सिनेमा में दिखाए गए अलग अलग जगहों की सैर कर सकते हैं.) मुंबई में सबसे किफ़ायती सैर करने के लिए बस और रेलगाड़ी का फायदा उठाइए. टैक्सी लेने से यह बहुत ज्यादा किफ़ायती होता है.

मुंबई में सैर करना बहुत किफ़ायती हो सकता है, लेकिन मुंबई में रहने के लिए किफ़ायती जगह ढूंढना बिलकुल आसान नही. हमारी सिफारिश यही होगी कि आप किसी दोस्त या रिश्तेदार के घर में ठैरें.

आशा रखते हैं कि आपका सफर अच्छा रहें!

You might also like: